{*Dard*} Shayari वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं |

{*Dard*} Shayari वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं |

मोहब्बत हम तुम से बहुत करते है
हम तुम पर दिल और जान से मरते है
मोहब्बत में यार मुझे कभी धोखा न देना
क्योंकी चाँद में भी हम तेरा दीदार करते है...!!!

 Hindi Sad Shayari Status For Lovers

Hum to tere dil ki mehfil sajane aye the
Teri kasam tujhe apna banane aye the
Kis baat ki saza di tune hum ko
Bewafa hum to tere dard ko apnane aye the...!!!

मोहब्बत का कोई आकार नहीं होता
सब कुछ हो जाता है इस दुनियां में
मगर दोबारा किसी से प्यार नहीं होता...!!!

इंसानों के कंधे पर इंसान जा रहे हैं
कफ़न में लिपट कर कुछ अरमान जा रहे हैं
जिन्हें मिली मोहब्बत में बेवफ़ाई
वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं..!!!

 Heart Touching Sad Shayari Hindi
उन गलियों से जब गुज़रे तो मंज़र अजीब था
दर्द था मगर वो दिल के करीब था
जिसे हम ढूँढ़ते थे अपनी हाथों की लकीरों में
वो किसी दूसरे की किस्मत किसी और का नसीब था..!!!

आज ये तन्हाई का एहसास कुछ ज्यादा है
तेरे संग ना होना का मलाल कुछ ज्यादा है
फिर भी काट रहे हैं जिए जाने की सज़ा यही सोचकर
शायद इस ज़िंदगानी में मेरे गुनाह कुछ ज्यादा हैं..!!!

खुश रहे तू है जहाँ, ले जा दुआएं मेरी
तेरी राहों से जुदा हो गयी हैं राहें मेरी
कुछ नहीं पास मेरे अब खाली हाथ हैं
किसी और की नहीं सब खतायें हैं मेरी...!!!

 Emotional Sad Shayari Hindi
फुर्सत किसे है ज़ख्मों को सरहाने की
निगाहें बदल जाती हैं अपने बेगानों की
तुम भी छोड़कर चले गए हमें
अब तम्मना न रही किसी से दिल लगाने की..!!

मैंने रब से कहा वो छोड़ के चली गई
पता नहीं उसकी क्या मजबूरी थी
रब ने कहा इसमें उसका कोई कसूर नहीं
यह कहानी तो मैंने लिखी ही अधूरी थी...!!!

हुस्न वाले खूब वफाओ का सिला देते हैं 
हर मोड़ पे एक ज़ख्म नया देते हैं
अए दोस्त इस जहाँ में कोई अपना नहीं
जब आग लगती हैं तो पत्ते भी हवा देते हैं...!!!

 Zindagi Sad Shayari Whatsapp Status Hindi
करते हैं हम तुमसे मोहब्बत
हमारी खता यह माफ़ करना
है अगर बदनाम मोहब्बत हमारी
तुम प्यार को बदनाम मत करना..!!

दिल नें बसा हें प्यार तेरा,
आखों में बसा हें चेहरा,
जहन से जाती नही,
जुबा खुलते गी आ जाता हें नाम तेरा...!!!

उनको अपने हाल का हिसाब क्या देते
सवाल सारे गलत थे जवाब क्या देते
वो तीन लफ्जों की हिफाजत ना कर सके
उनके हाथ में जिंदगी की पूरी किताब क्या देते...!!!

कैसे बयान करें आलम दिल की बेबसी का
वो क्या समझे दर्द आंखों की इस नमी का
उनके चाहने वाले इतने हो गए हैं अब कि
उन्हे अब एहसास ही नहीं हमारी कमी का...!!!
{*Dard*} Shayari वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं | {*Dard*} Shayari वफ़ा की तलाश में वो कब्रिस्तान जा रहे हैं | Reviewed by Admin on June 05, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.